• मुख्यमंत्री ने प्रदेश भर में जारी किया अलर्ट
  • कोरोना से निपटने को डॉक्टरों की टीम तैयार 

(लखनऊ/VMN) लखनऊ में एक कोरोना वायरस का मामला सामने आने पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पूरे प्रदेश में अलर्ट जारी कर दिया है। इसके लिए पूरे प्रदेश के स्कूल, कॉलेज, तकनीकी व व्यावसायिक संस्थानों को भी 22 मार्च तक बंद करने के आदेश दिए है। इस संबंध में कुछ महत्वपूर्ण निर्णय लेते हुए मुख्यमंत्री ने पूरे प्रदेश को दिशा निर्देश जारी किए हैं।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए प्रदेश भर के स्कूल कॉलेज तकनीकी व व्यवसायिक संस्थान पूर्णतया बंद रखे जाएं। अगर कोई  संस्थान खुला पाया जाता है तो उसके खिलाफ वैधानिक कार्रवाई को अमल में लाया जाएगा। ऐसा करना सरकार के आदेशों की अवहेलना मानी जाएगी। कोरोना वायरस से निपटने के लिए प्रदेश सरकार ने युद्ध स्तर पर तैयारी पूरी कर ली है। इसके लिए डॉक्टरों की टीम भी तैयार हो गई है। 

महत्वपूर्ण बिंदु

  1. कोरोना वायरस के रोकथाम वॉइस के उपचार के लिए स्वास्थ विभाग 1 माह के लिए एपिडेमिक एक्ट में प्रदान की गई शक्तियों को हासिल कर प्रभावी कदम उठाएगा। 

  2. निजी विद्यालयों सहित सभी प्राथमिक विद्यालय 22 मार्च तक बंद रहेंगे इसके बाद समीक्षा कर अगला निर्णय लिया जाएगा। 

  3. बेसिक शिक्षा परिषद के विद्यालयों में 23 से 28 मार्च तक परीक्षा संपन्न कराई जाएगी।  

  4. 3 अप्रैल 2020 से स्कूल चलो अभियान शुरू होगा। 

  5. माध्यमिक उच्च तकनीकी एवं व्यवसायिक शिक्षा संस्थान भी 22 मार्च तक बंद रहेंगे ऐसे संस्थान जहां परीक्षा चल रही हैं वह यथावत चलती रहेंगी। 

  6. स्वास्थ्य विभाग महिला कल्याण विभाग के सहयोग से आशा एवं आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को कोरोनावायरस की रोकथाम के संबंध में सैनिटाइज करेगा इस प्रकार प्रशिक्षित यह कार्मिक लोगों को जागरूक करेंगे। 

  7. स्वास्थ विभाग अपने अस्पतालों में नगर विकास विभाग, नगर निकायों के बेसिक शिक्षा विभाग विद्यालयों में हैंड बिल एवं पोस्टर के माध्यम से जागरूकता सूचित करेंगे सूचना विभाग माध्यमिक एवं उच्च शिक्षण संस्थानों में समुचित प्रचार-प्रसार करेगा। 

  8. नगर विकास विभाग एवं पंचायती राज विभाग सार्वजनिक स्थलों की विशेषता सफाई सुनिश्चित करेंगे। 

  9. प्रदेश में भारत नेपाल सीमा पर स्क्रीनिंग की व्यवस्था पूरी तत्परता से की जा रही है इस कार्य की मॉनिटरिंग के निर्देश दिए गए हैं।

  10. अब तक नेपाल की सीमा पर 12 लाख 28 हज़ार, 303 लोगों की स्क्रीनिंग की जा चुकी है। 

  11. एनसीआर क्षेत्र के लिए विशेष सतर्कता बरतने के निर्देश।

  12. प्रदेश में सभी हवाई अड्डों पर स्क्रीन की जा रही है।

  13. अभी तक 17048 यात्रियों की हवाई अड्डों पर स्क्रीनिंग की गई है।

  14. रेलवे स्टेशनों और बस अड्डों पर लोगों को जागरूक करने के लिए प्रचार-प्रसार गतिविधियां संचालित करने के निर्देश।

  15. प्रदेश में 75 जनपदों में जिला चिकित्सालय में 820 बेड तथा 24 मेडिकल कॉलेजों में 448 बेड. इस प्रकार कुल 12 68 बेड के आइसोलेशन वार्ड तैयार किए गए हैं।

  16. वर्तमान में 14 संदिग्ध लोग विभिन्न जनपदों में आइसोलेशन वार्ड में भर्ती है जिनका उपचार चल रहा है।

  17. उत्तर प्रदेश में करुणा वायरस से संक्रमित ग्यारह पोस्ट रोगी पाए गए हैं इनमें से आगरा नोएडा एवं गाजियाबाद के दस्तों का उपचार नई दिल्ली के सफदर शिक्षालय में तथा लखनऊ के एक रोगी का उपचार किंग जॉर्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय में हो रहा है इन सभी रोगियों की हालत स्थिर है।

  18. चीन में कोरोना वायरस का संक्रमण फैलते ही प्रदेश सरकार ने करीब डेढ़ माह पूर्व इससे निपटने की तैयारी शुरू कर दी थी।

  19. बचाओ नियंत्रण का उपचार के लिए 30 जनवरी 2020 से प्रदेश में डॉक्टर और पैरामेडिकल स्टाफ नर्सिंग स्टाफ व अन्य कर्मियों की ट्रेनिंग शुरू की गई अब तक 41 बचाओ नियंत्रण का उपचार के लिए 30 जनवरी 2020 से प्रदेश में डॉक्टर और पैरामेडिकल स्टाफ नर्सिंग स्टाफ व अन्य कर्मियों की ट्रेनिंग शुरू की गई अब तक 4100 चिकित्सा कर्मी प्रशिक्षित किए जा चुके हैं। 

  20. सार्वजनिक स्थानों पर भीड़ का जमाव रोकने के लिए एडवाइजरी जारी की गई है।