• यूपी एसटीएफ ने छापामार आरोपियों को किया गिरफ्तार
  • प्रयागराज में  सॉल्वर को बैठाने की चल रही थी तैयारी
  • प्रयागराज के पंचम लाल आश्रम इंटर कॉलेज का मामला
  • ₹ 4,11,000/- रुपये नगद, 220 सिम, 180 मोबाइल, 1 इनोवा क्रिस्टा कार आदि बरामद
  • पंचम लाल आश्रम इंटर कॉलेज के प्रबंधक चंद्रमा सिंह यादव को किया गिरफ्तार
  • गाजीपुर में मोबाइल से स्कैन कर पेपर बेचने की थी तैयारी
  • गाजीपुर में बुद्धम शरणम इंटर कॉलेज में हुई छापेमारी
  • बुद्धम शरणम इंटर कॉलेज के प्रधानाचार्य पारस सिंह कुशवाहा हुए गिरफ्तार

Archna S Shukla

(लखनऊ/VMN) यूपी एसटीएफ ने आज बुधवार को यूपी टीईटी परीक्षा में बड़ी धांधली करने वाले गिरोह के सदस्यों को पकड़ने की सफलता प्राप्त की है। यूपी एसटीएफ की टीम ने प्रयागराज व गाजीपुर दो जगह पर ताबड़तोड़ छापेमारी कर 12 आरोपियों को गिरफ्तार किया है इनमें एक कॉलेज प्रबंधक व एक प्रधानाचार्य भी है|  इनके पास से 220 सिम मोबाइल रुपए व परीक्षा पेपर के प्रिंट भी बरामद हुए हैं।

यूपी एसटीएफ काफी लंबे समय से प्रदेश में हो रही प्रवेश व अहर्ता परीक्षाओं पर विशेष नजर रखे हुए है।  इसी के चलते यूपी टीईटी परीक्षा में धांधली की पुख्ता सूचना पर प्रयागराज व गाजीपुर में दो ठिकानों पर छापेमारी की है। इसमें  प्रयागराज में हुई छापेमारी की कार्रवाई में पंचम लालआश्रम इंटर कॉलेज धूमनगंज के प्रबंधक चंद्रमा सिंह यादव पुत्र बर्फी लाल को गिरफ्तार किया है। इनके साथ गैंग का मुख्य सरगना संजय उर्फ रमेश उर्फ राकेश सिंह उर्फ गुरुजी को भी गिरफ्तार किया है। एक दलाल अश्विनी कुमार श्रीवास्तव, अभ्यर्थियों को उपलब्ध कराने वाला अमित यादव, मोबाइल व सिम की व्यवस्था करने वाला राजेंद्र कुमार यादव और 2 सॉल्वर राजेश मिश्रा भी एसीएफ गिरफ्त में है। ऐसी सूचना मिली है कि यह लोग पेपर आउट कराने से लेकर सॉल्वर को मुख्य परीक्षार्थी की जगह परीक्षा दिलाने की धांधली कोअंजाम देने वाले थे। यह ऐसा कुछ कर पाते इससे पहले ही एसटीएफ ने इनको धर लिया। इनके पास से ₹ 4,11,000/- रुपये नगद, 220 प्री एक्टीवेटेड सिम, 180 मोबाइल फोन, 1 ब्लूटूथ स्पीकर डिवाइस, 1 इनोवा क्रिस्टा कार , 1 टाटा मांजा कार व  2 मोटरसाइकिल बरामद हुआ है।

               यह है आरोपी जो करना चाहते थे यूपी टीईटी परीक्षा में खेल

  1. संजय उर्फ रमेश उर्फ राकेश सिंह @ गुरू जी पुत्र रघुनंदन सिंह निवासी 502 स्टर्लिंग अपार्टमेंट अशोक नगर इलाहाबाद। (मुख्य सरगना)
  2. चंद्रमा सिंह यादव पुत्र बर्फी लाल निवासी 108p गंगा विहार कॉलोनी टीपी नगर धूमनगंज इलाहाबाद। (प्रबंधक “पंचम लाल आश्रम इंटर कॉलेज ” धूमनगंज )
  3. अश्वनी कुमार श्रीवास्तव पुत्र श्री कृष्ण देव लाल निवासी ईडी -432 एडीए कॉलोनी नैनी प्रयागराज। ( दलाल)
  4. अमित यादव पुत्र श्री मौजी यादव निवासी -16 /62 न्यू बस्ती सोहबतियाबाग प्रयागराज। ( कैंडिडेट दिलाने वाला)
  5. राजेन्द्र कुमार यादव  पुत्र राममूर्ति यादव निवासी – 25-B, अमरनाथ झा मार्ग जॉर्ज टाउन इलाहाबाद। (मोबाइल एवं  सिम उपलब्ध कराने वाला)
  6. विनोद कुमार साह पुत्र श्री कन्हैया प्रसाद साह निवासी 17A/19 b/4a राजापुर इलाहाबाद। (सॉल्वर)
  7. राजेश मिश्रा पुत्र दुर्गा प्रसाद मिश्रा निवासी – 174/41A/29घ , तिलक नगर अल्लापुर ,  प्रयागराज। (सॉल्वर)

वही गाजीपुर में यूपी एसटीएफ ने छापेमारी के दौरान आज थाना कोतवाली नगर स्थित बुद्धम शरणम इंटर कॉलेज के प्रधानाचार्य सहित 5 लोगों को यूपी टीईटी के पेपर आउट कराने के प्रयास में गिरफ्तार कर लिया है।  

यूपी एसटीएफ को खबर लगी कि थाना कोतवाली नगर स्थित बुद्धम शरणम इंटर कॉलेज में आज बुधवार को होने जा रही यूपी टीईटी परीक्षा के पेपर आउट कराने की घ टना को अंजाम दिया जाएगा। मिली पुख्ता जानकारी के आधार पर यूपी एसटीएफ की टीम ने बुद्धम शरणम इंटर कॉलेज में छापेमारी की। छापेमारी के दौरान पाया गया कि परीक्षा के पेपर के C व D  सेट के 50 पेज को मोबाइल से स्कैन करके हल कर डेढ़ लाख रुपए से ऊपर कीमतों में बेचने की तैयारी चल रही थी। यह पेपर कॉलेज के प्रधानाचार्य के रिश्तेदार अजीत कुशवाहा की जेब में रखे मोबाइल में स्कैन किए गए थे वही कुछ प्रश्न पत्रों के प्रिंटआउट भी बरामद हुए हैं। इस मामले में कॉलेज के प्रधानाचार्य पारस सिंह कुशवाहा व उनके तीन रिश्तेदार चंद्रपाल कुशवाहा, चंद्रभान कुशवाहा, अजीत कुशवाहा के साथ-साथ लिपिक सियाराम यादव को सामूहिक पेपर आउट कराने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है।  यह भी बताना जरूरी है कि गिरफ्तार किया गया प्रकाश कुशवाह इससे पहले सन 2016 में यूपी पॉलिटेक्निक प्रवेश परीक्षा मामले में जेल जा चुका है।