• दूरस्थ ग्रामीण इलाकों में पर्याप्त बस सेवा उपलब्ध कराए जाने के दिए निर्देश
  • 18 फरवरी से शुरू हो रही कक्षा 10 और 12 के परीक्षार्थियों को मिलेगी सुविधा

(लखनऊ/VMN) उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद की 18 फरवरी से 8 मार्च तक होने वाली कक्षा 10 और 12 की बोर्ड परीक्षा के लिए शासन स्तर से पूरे प्रदेश भर के परीक्षार्थियों के लिए “परीक्षा स्पेशल बस सेवा” की शुरुआत की जा रही है। खासतौर से इस बस सेवा की शुरुआत से उन परीक्षार्थियों को सहयोग मिलेगा जिनके परीक्षा केंद्र उनके मूल निवास से काफी दूर हैं और स्थानों तक कोई भी वाहन जाने की संभावना नहीं होती है। बोर्ड परीक्षा में करीब 56 लाख परीक्षार्थी परीक्षा देंगे।
इस संबंध में प्रबंध निदेशक परिवहन निगम मुख्यालय डॉ राजशेखर ने बताया कि परीक्षा सुबह 8:00 से 11:15 तक तथा दोपहर 2:00 से शाम 5:15 तक दो पालियों में आयोजित होंगी। समय को ध्यान में रखते हुए और परीक्षार्थियों की सुविधा के लिए बस सेवा शुरू की जा रही है। इस संबंध में प्रदेश के सभी जिलों के क्षेत्रीय प्रबंधक, सेवा प्रबंधक व सभी सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक (डिपो) को निर्देश जारी कर दिए गए हैं कि यूपी बोर्ड 2020 में परीक्षार्थियों के लिए पर्याप्त बस सेवा उपलब्ध कराई जाए। इस संबंध में ग्रामीण स्थानीय जनपदीय बसों को समय से शत-प्रतिशत संचालित किए जाने के निर्देश दिए गए हैं ताकि परीक्षा में सम्मिलित होने वाले परीक्षार्थियों को पर्याप्त संख्या में बसे समय पर उपलब्ध हो सके और परीक्षार्थी समय से दोनों पालियाों पहुंच सकें। निर्देश दिए गए हैं कि दोनों पालियों में परीक्षा के लिए निर्धारित समय के अनुसार यदि आवश्यक हो तो बस की समय सारणी में परीक्षार्थियों को समय पर परीक्षा केंद्र पहुंचने के दृष्टिगत परीक्षा अवधि के लिए आंशिक परिवर्तन व संशोधन किया जाए। दूरस्थ परीक्षा केंद्रों के लिए परीक्षार्थियों को पर्याप्त सुविधा उपलब्ध कराने के उद्देश्य से अपने जनपद के जिला विद्यालय निरीक्षक अथवा परीक्षा नियंत्रक से संपर्क स्थापित करें और ऐसे परीक्षा केंद्रों को चिन्हित करें जहां पर पहुंचने के लिए वर्तमान में परिवहन निगम, अनुबंधित, निजी बसों व टैक्सी की सुविधा उपलब्ध नहीं है ऐसे चिन्हित परीक्षा केंद्रों पर परिवहन निगम की बस की आवश्यकता का आंकलन करते हुए विशेष बस सेवा “परीक्षा स्पेशल बस सेवा” के रूप में अनिवार्य रूप से संचालित कराना सुनिश्चित करें। सभी परीक्षार्थियों तक इसकी जानकारी पहुंच सके इसके लिए व्यापक प्रचार-प्रसार करें। इसके लिए बसों एवं बस स्टेशनों पर बैनर पोस्टर आदि लगाएं इन बसों पर सामान्य किराया, एमएसटी की सुविधा नियमानुसार लागू होगी। उन्होंने यह भी कहा कि बोर्ड परीक्षा 2020 के परीक्षार्थियों के लिए शुरू की गई। इस बस सेवा की शत-प्रतिशत संचालित करने के संबंध में दैनिक मॉनिटरिंग भी की जाएगी, जिसकी सूचना नियमित रूप से मुख्यालय में उपलब्ध कराई जाएगी। इस संबंध में कोई भी लापरवाही किसी भी स्तर पर पाई जाती है तो कठोर कार्रवाई भी की जाएगी क्योंकि यह बच्चों के भविष्य का सवाल है।