• 2 रुपये की खाली सेनेटाइजर की शीशी को 10 रुपये में खरीदने का आरोप  
  • मेयर ने जल्द से जल्द जाँच कर दोषियों को दण्डित करने के दिए आदेश 

9 May 2020, Saturday

(लखनऊ/VMN) देश जहां एक ओर कोरोना महामारी के भारी संकट से जूझ रहा है तो दूसरी ओर भ्रष्टाचार का प्रकोप भी थमने का नाम नहीं ले रहा है। ऐसी विषम परिस्थिति में भी भ्रष्टाचारी अपनी आदत से बाज नहीं आ रहे हैं। ताज़ा मामला सामने आया है उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ से। यहां नगर निगम ने महज़ ₹2 में मिलने वाली सैनिटाइजर की खाली शीशी की खरीदारी 4 गुने दाम से भी अधिक (10 रुपये) में खरीद डाली। इसकी जानकारी सामने आने पर मेयर संयुक्ता भाटिया ने तत्काल एक्शन लेते हुए एक लेटर नगर आयुक्त को जारी कर तुरंत जांच के आदेश दिए हैं। इसी के साथ किसी को भी दोषी पाए जाने पर उसे तत्काल दंड दिए जाने के भी आदेश दिए हैं। इस मामले में संयुक्ता भाटिया ने कहा कि कोरोना महामारी के समय एक तरफ जहां सभी नगर निगम परिवार द्वारा लखनऊवासियों की सुरक्षा एवं भोजन वितरण आदि की व्यवस्था की जा रही है तो दूसरी तरफ कुछ कर्मचारी महामारी के दौरान घपला करके हमारे अच्छे कार्यों पर पानी फेरने का प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि जानकारी में आया है कि हॉटस्पॉट इलाकों में 50ml सैनिटाइजर बांटने के लिए लगभग ₹2 प्रति शीशी की दर से मिलने वाली 10000 खाली शीशियों को ₹10 प्रति शीशी की दर से खरीदा गया। ऐसे कठिन समय में ऐसी सूचना अत्यंत दुखद एवं दुर्भाग्यपूर्ण है। इसी प्रकार से मास्क एवं अन्य उपकरणों में अनियमितता की शिकायतें भी प्राप्त हो रही हैं। इससे नगर निगम के अधिकारियों और कर्मचारियों की छवि भी धूमिल हो रही है। इसीलिए नगर आयुक्त को प्रकरण की तत्काल जांच कराते हुए सभी तथ्यों एवं खरीद प्रक्रिया से 24 घंटे में अवगत कराने के आदेश दिए हैं। जांच में जो भी दोषी पाया जायेगा उसके विरुद्ध सख्त एवं कठोर कार्रवाई की जाएगी तो दूसरी ओर नगर आयुक्त ने कहा कि जांच कराई जा रही है।

 इसलिए खरीदी जानी थी शीशियां…

 इन शिशी की खरीदारी इसलिए की जा रही थी ताकि इसमें 50ml सोडियम हाइपोक्लोराइट भरकर शहर के 10 हॉटस्पॉट इलाकों में नगर निगम द्वारा वितरित किया जाना था। इस मामले में अन्य कई विभागों के लोगों की भी मिलीभगत होने की आशंका जताई जा रही है। सूत्रों की माने तो इससे पहले मास्क की खरीद में भी विवाद सामने आया था। 

क्या कहते हैं थोक विक्रेता…

अगर थोक विक्रेताओं की बात करें तो उनका कहना है कि होलसेल में यह 50ml की शीशी डेढ़ से ₹2 में उपलब्ध है। ऐसे में ₹2 की जगह ₹10 की बात सामने आना किसी बड़े घपले की ओर इशारा करता है।